CURRENT AFFAIRS

2nd August 2017

US- India Strategic Partnership Forum (USISPF) की स्थापना

भारत एवं USA के व्यापार सम्बन्धों को मजबूत करने के लिए इस संगठन की स्थापना की जा रही है। यह एक गैर-लाभकारी निगम होगा जो कि द्विपक्षीय व्यापार को बढावा देने एवं नागरिकों के जीवन को बदलने की शक्ति रखने वाले अवसरों को सृजित करने का कार्य करेगा। यह आर्थिक विकास, रोजगार सृजन, नवाचार समावेश तथा उद्यमशीलता को प्राप्त करने के लिए सहयोगात्मक रुख अपनाएगा। इसका उद्देश्य भारत की मानव शक्ति एवं USA की तकनीकी का प्रयोग करते हुए व्यापार की नई ऊँचाइयों को छूना हैं।

विश्व बैंक द्वारा किशनगंगा तथा रतले प्रोजेक्ट को मंजूरी

जम्मू कश्मीर में किशनगंगा और रतले परियोजनाओं की राह में बाधा खड़ी करने की पाकिस्तान की कोशिशों को झटका देते हुए विश्व बैंक ने भारत के पक्ष में निर्णय दिया है। विश्व बैंक ने कहा कि इन परियोजनाओं का निर्माण सिंधु नदी संधि का उल्लघंन नहीं है।

  • सिंधु जल संधि 19 सितम्बर 1960 को अस्तित्व में आयी। इस संधि में विश्व बैंक द्वारा मध्यस्थता की गई।
  • इसकेो द्वारा सिंधु, झेलम, चिनाब का 10 प्रतिशत तथा सतलज, रावी, व्यास का 100 प्रतिशत पानी भारत उपयोग कर सकता है।

किशनगंगा नदी

यह झेलम की सहायक नदी है जो कि सोनमर्रा शहर के पास स्थित किशनसर झील सो निकलती है और गिलगिट बालिस्तान में स्थित मुजफ्फराबाद में यह झेलम में मिल जाती है। लिद्दर एवं सिंध नदी इसकी सहायक नदियाँँ है। इसे पाकिस्तान में नीलम नाम से जाना जाता है।

About the author

Amit Singh

Leave a Comment